खलीफा हारून अल रशीद और हजरत फजेल बिन अयाज islamic stories Hindi

खलीफा हारून अल रशीद और हजरत फजेल बिन अयाज islamic stories Hindi islamic stories islamic story in hindi sufi quotes in hindi Auliya allah औलिया अल्
Sakoonedil

 खलीफा हारून अल रशीद और हजरत फजेल बिन अयाज islamic stories Hindi


खलीफा हारुन अलरशीद ने अपने वजीर फजल बिन राबये के साथ हज किया अरकाने हज की अदाइगी से फ्रागत हुई तो हारुन ने फजल से कहा कि मैं यहाँ किसी मर्दे खुदा रशीदा से मिलना चाहता हू किसी का नाम बताओ जिससे मुझे मिलकर फायदा हो फजल ने हजरत अब्दुर्रज्जाक सनआनी का नाम बताया जो बड़े रहेम दिल और मरजा खलायक थे चुनानचे हारुन अलरशीद उनकी खिदमत मे हाजिर हुआ इधर उधर की बातों के बाद खलीफा ने वजीर से कहा उनसे पूछो उनपर किसी का कर्ज वाजिब होतो बतलायें अदा कर दिया जायेगा फजल बिन राबये ने हज़रत से दरियाफ्ट किया तो हज़रत नें जवाब मे कर्ज की रकम बतला दी और खलीफा हारुन अलरशीद ने फजल को उस रकम की अदाइगी का हुकुम दे दिया,



लेकिन जैसे ही हारुन अलरशीद उनके मकान से निकला तो उसने अपने वजीर फजल बिन राबये से कहा कि फजल मुझे इस मुलाकात से सेरी नहीं हुई मैं किसी और मर्दे फकीर से मिलना चाहता हू फजल राबये ने बहुत गौर किया बहुत गौर और फिकर के बाद उसने हजरत सुफियान बिन अइइनह का नाम लिया जो अपने वक्त के बहुत मशहूर औलिया अल्लाह और मुहड्डिसिन मे से हैँ हारुन अलरशीद उनकी खिदमत मे हाजिर हुआ इबतेदाई गुफ्तगू के बाद हारून अल रशीद ने फिर फजल बिन राबये से कहा कि मालूम करो कि उनको किसी का कोई कर्ज तो अदा करना नहीं है, यहाँ भी वही अस्बात मे जवाब मिला हारून अल रशीद ने अपने वजीर फजल बिन राबये को हुकुम दिया कि वोह रकम हज़रत को अदा करदी जाये,


खलीफा हारून अलरशीद इस मर्तबा बहुत अफसुर्दा खातिर हुआ और परेशानी के लहजे मे फजल बिन राबये से कहा कि मैं तुमसे किसी मर्दे खुदा की मुलाकात की खुवाहिश बयान करता हूँ किया ये सर्जमीन अरब अहले अल्लाह से एक्सीर खाली हो गई है. फजल बिन राबये बहुत घबराया उसे जिन उलमा वा सलहा के मुतालिक मालूम था उस्ने तो उन्ही मेसे दो बेहतरीन औलिया अल्लाह के नाम लिये थे आखिर खलीफा का हुकुम था तामील करना जरुरी था लेकिन कोई ऐसी ग्रामी कद्र शख्शियत अब उसके जहन मे नहीं आरही थी जो खलीफा के अपने मायार पर बिल्कुल ही पूरी उतर जाये आखिर जब खलीफा ने उससे दुबारा कहा तो उसने हजरत खुवाजा फजेल बिन अयाज की जाते ग्रामी की तरफ इशारा किया. हजरत फजेल ने खुरका इरादत हजरत अब्दुल वाहिद बिन ज़ैद से पहना है हजरत जैद ने हज़रत खुवाजा हसन बसरी से और आपने मौलाये कैनात शेरे खुदा अमिरुल मोमिनून हजरत अली रजिअल्लाहुतअलाअन्हु से खुरका इरादत पहना,


islamic stories In Hindi


जिस वक़्त हारून रशीद और फजल बिन राबये आपके हुजरा मुबारक पहुचे तो रात हो चुकि थी और आपके हुजरा मुबारक से क़ुरआन मजीद पढ़ने की दिलकश आवाज आरही थी और आपके जुबाने मुबारक पर ये अल्फाज जारी थे أَمْ حَسِبَ الَّذِينَ اجْتَرَحُوا السَّيِّئَاتِ أَن نَّجْعَلَهُمْ كَالَّذِينَ آمَنُواوَعَمِلُوا الصَّالِحَاتِ


islamic stories in hindi


हारून अल रशीद ने इस आयेत को सुनते हि कहा बस यहि काफी है लेकिन फिर भी फजल ने हुजरे का दरवाजा खट खटाया आवाज आई कौन है फजल बिन राबये ने कहा अमिरुल मोमिनिन हारून अल रशीद, तो हजरत ने अन्दर ही से जवाब मे फरमाया, हमारा अमिरुल मोमिनन से किया ताल्लुक है, हारून अल रशीद ने खुदही जवाब दिया मैं आपसे अपने लिये दुआ कराने आया हूँ आपसे अपने नफ़्स की इस्लाह चाहता हूँ और ये काम आपको जरूर करना होगा हजरत खुवाजा फजेल बिन अयाज ने फ़ौरन चिराग गुल किया और हुजरे का दरवाजा खोल कर आप एक कोने मे खड़े हो गये हारून अल रशीद ने हुजरे मे पहुंच कर आपको ढूंढा और उसका हाथ इत्तेफाकन हजरत खुवाजा के हाथ मे पड़ा तो आपने बड़े ही दर्द मंद लहजे मे फरमाया,


islamic stories in hindi


आह आजतक इस हाथ से जियादा नरम हाथ मैंने कोई नहीं देखा और येह हाथ वाक़ई बहुत ही नरम हैँ बशर तैकि कयामत के दिन दोजख की आग से मेहफूज रहे,


हारून अल रशीद रोने लगा रोता रहा यहाँ तक कि बेहोश हो गया कुछ देर बाद होश मे आया तो बोला कि मुझे कुछ और नसीहत कीजिये,


 हज़रत खुवाजा ने फरमाया कि अये अमिरुल मोमिनिन, तेरे जदे अमजद ने जो हुजूर रसूले अकरम सल्लल्लाहु अलैहे वसल्लम के चचा थे एक कौम पर हुकूमत करने की दरखुवास्त की थी जिस पर हुजूर सल्लल्लाहु अलैहे वसल्लम ने फरमाया था कि अये इम मोहतरम खुदा की फरमाबदारी मे आपका एक सांस उन हजार बरसों से कही जियादा बेहतर है जिन मे खलके खुदा आपकी इताअत करे,


हारून अल रशीद ने कहा मुझे कुछ और नसीहत फरमाइए,


हजरत खुवाजा ने इरशाद फरमाया ये तेरा चेहरा बहुत खूबसूरत दिलकश और अबदार है लेकिन मुबारा ये तेरा चेहरा कही दोजख की आग मे झुलस कर ना रेह जाये इसलिये तुझे खुदा तरसी और उससे पहले उसकी हक गुजारी करनी चाहये हारून अल रशीद ने नसीहते सुनली तो अर्ज किया कि अगर आपको किसी का कर्ज अदा करना होतो बिला तकलीफ फरमा दीजिये,


islamic stories in hindi


हजरत खुवाजा फजेल बिन अयाज ने फरमाया कि हाँ खुदा का बहुत बड़ा कर्ज देना है जिसके अदा करने मे मशगूल हूँ हक ताला से दुआ है कि वोह अपने फजल वा करम से और तौफीक से उसे अदा करदे आपकी ये बातें सुन कर हारून अल रशीद रोने लगा रोते रोते उसकी हिचकी बंध गई फिर जब सम्भला तो उसने बड़े ही अदब वा एहतराम से एक हजार तलाई दिनारों की थैली आपके सामने रखदी तो हजरत खुवाजा ने बरहम होकर फरमाया मेरी नसीहत का किया यहि बदला है अफसोस कि मेरी नसीहत की बातें तुझे कुछ फायदा ना पहुंचा सकी मैंने तुझे नसीहत की दुनिया की बजाये खुदा की तरफ आने को कहा और तू मुझे मुसीबत वा बला मे फसाता है खुदा के बजाये दुनिया की तरफ मुझे घसीटना चाहता है अफसोस है तुझपर हारून अल रशीद रोता हुआ आपके हुजरे से बाहर निकल आया और अपने वजीर फजल बिन राबये से कहा कि हजरत खुवाजा फजेल बिन अयाज मर्दे कामिल हैँ साहबे दिल, बखुदा और खुदा रशीदा हैँ और जब तक दुनिया मे ऐसे मुकद्दस लोग मौजूद रहेंगे इस दुनिया मे रहने वालों पर खुदा की रेहमते नाजिल होती रहेंगी 

islamic stories Hindi

islamic stories

islamic story in hindi

sufi quotes in hindi

Auliya allah

औलिया अल्लाह 

islamic story in hindi

इस्लामिक स्टोरी इन हिंदी

islamic kahani

इस्लामिक कहानी

islamic kisse in hindi

इस्लामिक किस्से इन हिंदी

इस्लामिक वाक़्या इन हिंदी

Islamic Waqya In Hindi

Allah ka mehboob banda

अल्लाह का मेहबूब बन्दा 

इश्के इलाही

Ishqe ilahi

allah se Mohabbat

Sufi islam

islamic stories Hindi

Rate This Article

Thanks for reading: खलीफा हारून अल रशीद और हजरत फजेल बिन अयाज islamic stories Hindi, Sorry, my Hindi is bad:)

Getting Info...

एक टिप्पणी भेजें

Cookie Consent
We serve cookies on this site to analyze traffic, remember your preferences, and optimize your experience.
Oops!
It seems there is something wrong with your internet connection. Please connect to the internet and start browsing again.
AdBlock Detected!
We have detected that you are using adblocking plugin in your browser.
The revenue we earn by the advertisements is used to manage this website, we request you to whitelist our website in your adblocking plugin.
Site is Blocked
Sorry! This site is not available in your country.